संवाददाता- अमृत साहू जिला बलौदाबाजार भाटापारा

भाटापारा – नगर पालिका परिसर में एक स्वीपर ने फाँसी लगाकर आत्महत्या करने की खबर सामने आ रही है।वही स्वीपरों का आरोप है कि कई महीनों से वेतन नही मिलने से वह परेशान था। नगर पालिका के जवाबदार अधिकारी जनप्रतिनिधि भी नदारद रहें ..वहीं स्वीपरों में भारी आक्रोश था..दरअसल भाटापारा के नगर पालिका में कार्यरत नियमित स्वीपर कर्मचारी गणपत ने नगरपालिका के ऊपर भवन में छज्जे से निकले हुए छड़ से रस्सी से फांसी लगाकर अपनी जान दे दी मौके पर घटना के समय पालिका में कर्मचारी और सीएमओ मौजूद नहीं थे वही गणपत के फांसी लगाने से भाटापारा नगर पालिका स्वीपर व कर्मचारियों में खासा रोष देखने को मिला। स्वीपर कर्मचारियों और मृतक गणपत के परिजनों का आरोप है कि पालिका के द्वारा से स्वीपरों को समय पर वेतन नहीं मिलता है उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि पिछले 3 महीनों से गणपत को वेतन प्राप्त नहीं हुआ है और भत्ता एरियस जैसे कई समस्याएं हैं जो नहीं मिलने से स्वीपर कर्मचारियों को अपना परिवार चलाने में समस्याओं का सामना करना पड़ता हैं।इन सभी आशंकाओं के तहत अंदाजा लगाया जा रहा है इन्ही समस्याओं से ग्रस्त गणपत ने फांसी पर लटक कर अपनी जान दे दी वहीं सीएमओ का कहना है की इन्होंने फांसी क्यों लगाई इसकी जानकारी नहीं है वहीं अगर वेतन की बात करें तो कल यह कर्मचारी मेरे पास आए थे।इन्हें समस्या बताने पर 1 महीने का वेतन दिया है।गणपत के फांसी लगाने से भाटापारा में सनसनी फैल गई और लोग पालिका के अव्यवस्थाओं के प्रति गुस्सा फूटने लगा है। घटना के बाद शहर थाना पुलिस मौके पर पहुंची है और विवेचना जांच जारी है।

#Thebilasatimes

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here