लखनऊ उत्तर प्रदेश में अब गाड़ियों पर जाति सूचक शब्द सरनेम आदि लिखवाना अब मंहगा पड़ सकता है।प्रदेश के अपर परिवहन आयुक्त का आदेश है कि जिन वाहनों पर ऐसे शब्द पाए गए उनके खिलाफ अभियान चलाते हुए उनकी बाइक और कार जब्त कर लिया जायेगा।

एक शिक्षक ने लिखा शिकायत पत्र।

दरअसल महाराष्ट्र के एक शिक्षक प्रभू ने PM मोदी के नाम एक खत लिखा था,जिसमें उन्होंने कहा था कि उत्तर प्रदेश में चल रहे जातिवाद वाहन सामाजिक ताने बाने के लिए खतरा हैं और इन्हें बंद किया जाना चाहिए. प्रधानमंत्री कार्यालय ने ये शिकायत उत्तर प्रदेश सरकार को प्रेषित कि।जिसके बाद मामले को संज्ञान में ले कर अपर परिवहन आयुक्त ने ये आदेश जारी किया है।धारा 177 के तहत कार्रवाई होगी इस मामले में गाड़ियों पर जाति सूचक शब्द होने पर धारा 177 के तहत चालान या फिर गाड़ी सीज करने की कार्रवाई की जाएगी।राजधानी लखनऊ में 2 पहिया और 4 पहिया मिला कर कुल 25 लाख गाड़ियां हैं।इस लिए प्रसासन कि कार्यवाही से बचने सतर्क हो जायें और ऐसे शब्द लिखाने से बचें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here