Ramesh bhatt 7999505094कोरोना न्यूज़छत्तीसगढ़बिलासपुर संभाग

नगर विधायक शैलेष पाण्डेय ने पूरे स्वास्थ्य महकमे की ली बैठक 10% बच्चे संक्रमित है, सम्वेदनशील होकर इलाज करने के निर्देश।

नगर विधायक शैलेष पाण्डेय ने पूरे स्वास्थ्य महकमे की ली बैठक 10% बच्चे संक्रमित है, सम्वेदनशील होकर इलाज करने के निर्देश।

हर संक्रमित मरीज को ठीक करना हमारी जवाबदारी— बोले विधायक

अधिकतम मरीज़ घर में है, सभी के सम्पर्क में अनवरत रहें

निजी अस्पतालों की मनमानी रोकने और निरीक्षण के लिए विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम करेगी दौरा

*सिम्स के सभी आरटीपीसीआर टेस्टिंग मशीन चालू किए जाएंगे ताकि रिपोर्ट शीघ्र आए*

बिलासपुर।नगर विधायक शैलेष पांडेय ने कोरोना संक्रमण के रोकथाम के लिए तैयारी एवं व्यवस्थाओं के लिए स्वास्थ्य महकमे की सेंट्रल लाइब्रेरी हॉल सरकंडा में विस्तृत बैठक ली, उन्होंने बिंदुवार स्वास्थ्य अधिकारियों एवं चिकित्सकों से विस्तृत आंकड़ों सहित होम आइसोलेशन, टेस्टिंग, ट्रेसिंग, दवाइयां, बेड, वैक्सीनेशन, निजी अस्पतालों सहित जानकारी मांगी।स्वास्थ्य अधिकारियों ने होम आइसोलेशन के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान में 1675 सक्रिय मरीज होम आइसोलेटेड हैं। जिन्हें प्रतिदिन स्वास्थ विभाग फोन के माध्यम से बातचीत करके स्वास्थ संबंधी जानकारी पूछता है, और यह प्रक्रिया पूरे 10 दिन होती है इसके साथ ही परिवार के सदस्यों का भी कोविड टेस्ट होता है, एवं उन्हें आवश्यक दवाइयां घर पहुंचा कर उपलब्ध कराई जा रही है, स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार लगभग 150 बच्चे कोरोना संक्रमित हैं जिन्हें गाइडलाइन के अनुसार वैक्सीन नहीं लग पाई है।

इसके साथ ही विदेशी नागरिक एवं अन्य राज्यों से आने वाले नागरिकों के लिए स्वास्थ्य विभाग को एयरपोर्ट एवं रेलवे जानकारी उपलब्ध कराता है, उसके माध्यम से ट्रेसिंग प्रक्रिया की जाती है। इन सभी के अनिवार्य रूप से कोविड टेस्ट किया जाता है एवं गाइडलाइन पालन करने कहा जाता है।

अधिकारियों ने बच्चों के वैक्सीनेशन के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि 15 वर्ष से 18 वर्ष के कुल 1 लाख 10 हजार बच्चों को कोविड वैक्सीन लगाया जाना है, जिसके लिए 10 दिन का टारगेट तय किया गया है, वहीं अब तक 46 हजार बच्चों को प्रथम डोज लगाई जा चुकी है, इसके लिए स्कूलों में शिविर आयोजित कर बच्चों को कोविड वैक्सीन लगाई जा रही है।स्लम क्षेत्र में रहने वाले लोगों को वैक्सीनेशन के लिए जागरूक करने के लिए विशेष शिविर आयोजित किए जाएंगे, ताकि स्लम क्षेत्र में वैक्सीन के लिए जो भ्रांतियां फैली है उसको मिटा कर लोगों को वैक्सीन के प्रति जागरूक कर उन्हें वैक्सीन के लाभ और कोरोना संक्रमण के नियंत्रण के लिए बताया जा सके।स्वास्थ्य अधिकारियों ने टेस्टिंग के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि प्रतिदिन लगभग 4000 लोगों का कोरोना परीक्षण किया जा रहा है। इसके लिए तीन मापदंड तय किए गए हैं, विदेश एवं अन्य राज्यों से हवाई यात्रा के माध्यम से यात्री एयरपोर्ट पहुंचता है उन्हें रैंडम टेस्ट किया जा रहा है, इसके साथ ही रेलवे और बस से सफर करने वाले लोगों का काॅन्टेक्ट ट्रेसिंग के माध्यम से भी कोरोना परिक्षण किया जा रहा है। तो वही कोरोना लक्षण जिन्हें सर्दी, खांसी, बुखार, सर दर्द है ऐसे लोगों का भी परीक्षण किया जा रहा है।सिम्स चिकित्सकों ने नगर विधायक शैलेष पांडेय को जानकारी देते हुए बताया कि बिलासपुर सहित आसपास के जिले जिसमें गौरेला पेंड्रा मरवाही, मुंगेली, बलौदा बाजार से भी कोविड परीक्षण आरटीपीसीआर सैंपल सिम्स में भेजे जाते हैं। वर्तमान में सिम्स में पांच कोरोना परीक्षण आरटीपीसीआर मशीनें वायरोलॉजी लैब में स्थापित हैं, जिनमें से तीन मशीनें संचालित की जा रही है। स्टाफ की कमी के कारण दो मशीनें बंद पड़ी है, जानकारी मिलने पर नगर विधायक शैलेष पांडेय ने तत्काल संचालक स्वास्थ्य सेवाएं नीरज बंसोड़ से फोन पर बात की और समस्या से अवगत कराया। संचालक स्वास्थ्य सेवाएं ने नगर विधायक को जानकारी देते हुए बताया कि आज रविवार को इसकी बैठक बुलाई गई है जल्दी समस्याओं को समाधान किया जाएगा।बच्चों के कोरोना संक्रमण की व्यवस्थाओं के संबंध में नगर विधायक शैलेष पांडेय ने स्पष्ट किया है कि किसी भी मरीजों के इलाज में कोई कोताही नहीं बरतनी चाहिए, सिम्स में बच्चों के लिए 8 बेड सहित 2 वेंटिलेटर की व्यवस्था बनाई गई है तो वहीं जिला अस्पताल में 10 बेड और 1 वेंटिलेटर की व्यवस्था है।निजी अस्पतालों की मनमानी और व्यवस्थाओं का जायजा लेने के लिए स्वास्थ्य विभाग के द्वारा विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम बनाकर निजी अस्पतालों का निरीक्षण किया जाएगा। वहीं बिल एवं व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने के लिए आवश्यक कदम उठाने की बात कही गई है।बैठक में वरिष्ठ कांग्रेस नेता पंकज सिंह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ प्रमोद महाजन, सिविल सर्जन सह अस्पताल अधीक्षक डॉ अनिल गुप्ता, सिम्स कोविड प्रभारी डॉ आरती पांडेय, डॉ. नीरज शिंदे, डॉ विवेक शर्मा, जिला अस्पताल कोविड प्रभारी डॉ शेफाली सिंह, सीपीएम पियूली मजूमदार, डॉ. समीर तिवारी, टीकाकरण अधिकारी डॉ. सैमुअल, डॉ ए एल गुप्ता, डॉ. प्रभात, डॉ. अमृता सिंह, डॉ. कोमल डोटे, डा. खुलेश्वर, डॉ. ओम देवांगन, कमल कांत शुक्ला, अजय बेंडे, माधव मिश्रा, डल्ला सिंह राजपूत, संजय शुक्ला, संजय देवांगन, सहित अन्य मौजूद रहे।

Youtube Channel

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!