बिलासपुर। बिलासपुर रेलवे स्टेशन स्थित जीआरपी थाना प्रांगण में आज सुबह से सफ़ेद कपड़े में बंधा शव कचरे की तरह पड़ा हुआ था। दोपहर तकरीबन साढ़े तीन बजे जब मीडिया के कैमरे की नज़र शव पर पड़ी तो जीआरपी थाना तुरंत हरकत में आ गया। पुलिसकर्मियों से जब इस बारे में जानकारी मांगी गई तो पुलिसकर्मी शव को अस्पताल लेजाने के लिए गाड़ी न होने की बात कहने लगे।आसपास के लोगों ने और ख़ुद पुलिसकर्मियों ने बताया कि ये शव स्टेशन में ही भीख मांगकर गुज़र बसर करने वाली एक वृद्ध महिला का है। उन्होंने ख़ुद ही ये बात भी बताई कि शव सुबह से वहीं पड़ा हुआ है।करीब से देखने पर नज़र आया कि शव को चीटियों ने नोचना शुरू कर दिया है।उस गरीब महिला के शव को बिलासपुर जीआरपी पुलिस ने खुली नाली के किनारे सुबह से किसी सामान की तरह डम्प किया हुआ था।एक बात तो साफ़ ज़ाहिर जीआरपी पुलिस की गरीबों का कोई सम्मान नहीं है। थाने में उपस्थित SI राठौर से जब इस बारे में जानकारी मांगी गई तो उन्होंने कहा कि “ये तो छोटी घटना है छोड़िए इसको” उन्होंने कहा कि मैं तो अभी ड्यूटी में आया हूं देवसिंह नेताम इसके बारे में बताएंगे।कोई भी इस बारे में मीडिया से बात करने को तैयार नहीं हुआ पूरा जीआरपी थाना एक दूसरे पर ठीकरा फोड़ाता नज़र आया।नाली के किनारे पड़ा गरीब महिला का शव चिल्ला चिल्ला कर बता रहा था कि जीआरपी पुलिस की संवेदनशीलता भी मर चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here