रमेश भट्ट✍️

बिलासपुर पुलिस खाकी को सलाम: डायल 112 ने बचाई जिंदगी, पत्नी रूठकर गई तो फांसी लगा रहा था युवक,

कोटा बिलासपुर। कई बार खाकी अपने कामों से लोगों को स्वेच्छा से ही सलाम करने का अवसर प्रदान कर देती है। दरअसल बुधवार आज दोपहर बाद तकरीबन 3 बजे लगभग एक युवक की फांसी लगाने की सूचना कोटा थाना अंतर्गत मिलने पर डायल 112 के पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे और युवक की जान बचा ली। पुलिस जब पहुंची तब तक युवक ने फंदा तैयार कर उसे गले में डालने की कोशिश कर रहा था। ग्राम पंचायत खुरदूर में रहने वाले एक युवक के फांसी लगाने की सूचना डायल 112 को मिली।

डायल 112 द्वारा सक्रियता दिखाते हुए पुलिसकर्मी दस मिनिट में बताए गए पते पर पहुंच गए और देखा कि अंदर एक युवक गले में फंदा डाल रहा है। इस पर थाना कोटा पुलिस कर्मी डायल 112 श्याम लाल सोनवानी, व प्रधान आरक्षक कमलेश सिंह ,पायलट मोनू जायसवाल ,ने दरवाजा खोला और युवक को बचा लिया। दरवाजा अंदर से बंद नहीं था बल्कि कुछ सामान रखकर बंद किया था। इसके चलते पुलिस युवक की जान बचाने में सफल हो पाई।बताया जाता है कि कुछ दिन पूर्व युवक की पत्नी आपसी विवाद के चलते मायके चली गई थी। अभी तक नहीं लौटी तो निराश युवक ने आत्महत्या का प्लान बनाया। उसके माता ने दरवाजा बंद देखा और नहीं खोलने पर पड़ोसी के मोबाइल की मदद से पुलिस कंट्रोल रूम सूचना दी। इस पर पुलिस ने त्वरित पहुंचकर उसकी जान बचा ली। डायल 112 बस एक कदम दूर की जो बात कही गई है ,वह आज पूरी तरह चरितार्थ होते नजर आई। पुलिस की सक्रियता ने एक जिंदगी बचा ली वहीं लोगों में भी पुलिस के प्रति सम्मान की भावना बढ़ गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here