Ramesh bhatt 7999505094छत्तीसगढ़बिलासपुर संभागशिक्षा

छत्तीसगढ़ सरकार के निर्देश के बाद खुला स्कूल,बच्चों में दिखी खुशी ,जनप्रतिनिधियों ने दी शुभकामनाएं।

मनमोहन सिंह✍️

 

बिलासपुर कोटा। खैरा – राज्य सरकार के निर्देश मिलने के बाद पालक  एवं जनप्रतिनिधियों की सहमति से ग्राम पंचायत खैरा स्थित शा. हाई स्कूल खैरा मे सोमवार को विद्यार्थियों का शाला प्रवेश कराया गया। विद्या की देवी मां सरस्वती के पूजा स्तुति कर जनप्रतिनिधि एवं शिक्षकों ने उज्जवल भविष्य के लिए विद्यार्थियों को शुभकामनाएं दिया।

 देश में फैली कोरोना वायरस की वजह से जनहित की सुरक्षा के लिए स्कूल,कॉलेज सहित कोचिंग सेंटरों के संचालन पर पाबंदी लगाई गई थी। ऑनलाइन, “पढ़ाई तुंहर दुआर” के तहत मोहल्ला क्लास लगाकर छात्र-छात्राओं को शिक्षा प्रदान की जा रही थी। ऐसे में एक ही स्थान पर शिक्षा प्रणाली को बेहतर बनाने के प्रदेश सरकार के निर्देश मिलने के बाद ग्राम पंचायत खैरा हाई स्कूल के शिक्षकों द्वारा जनप्रतिनिधि एवं पालकों से स्कूल संचालन करने सहमति मिलने के बाद स्कूल खोलने निर्णय लिया गया। सोमवार को मां सरस्वती की पूजा आरती के बाद उपस्थित विद्यार्थियों को तिलक लगाकर एवं पुष्पगुच्छ के साथ स्वागत करते हुए शाला प्रवेश कराया गया। ग्राम पंचायत सरपंच जेएस आर्मो एवं उप-सरपंच अशोक कुमार जायसवाल ने सभी छात्र छात्राओं को उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं देते हुए शिक्षकों द्वारा पढ़ाई गई विषयों को ध्यान लगाकर पढ़ने के लिए प्रेरित किया। साथी बताया कि अपने भविष्य को सुनहरे ऊंचाई पर ले जाने शिक्षा के मंदिर में विद्यार्थी अपनी नीव को मज़बूत करते हैं। प्राचार्य सीएस पैकरा सभी विद्यार्थियों को कोविड-19 के नियमों का पालन करते हुए मास्क लगाकर स्कूल में प्रवेश करने कहा गया। सर्दी खांसी बुखार होने की स्थिति में घर में जाकर इलाज करवाएं। ऐसी स्थिति में कक्षा में प्रवेश नहीं मिलेगा।इस दौरान व्याख्याता आर एस साहू, श्रीमती नीता तंबोली अनतराम सहित विद्यालय के बच्चे सामाजिक दूरी का पालन करते हुए उपस्थित रहे।

Youtube Channel

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!