बिलासपुर । होम आईसोलेशन में रहकर 72 वर्षीय श्री रामफल कश्यप एवं उनकी 66 वर्षीय पत्नी श्रीमती विमला देवी कश्यप कोरोना की जद से बाहर आ गए है। कश्यप दंपती ने जागरूकता का परिचय देते हुए लक्षण आने के तुरंत बाद कोरोना की जांच करवाई और रिपोर्ट पाॅजीटिव आने पर होम आईसोलेशन मंे रहकर इलाज शुरू करवा दिया।
विकासखण्ड कोटा के ग्राम पंचायत सोनपुरी में निवासरत कश्यप दंपती का मानना है कि चिकित्सकों के परामर्श पर पूरा भरोसा रखते हुए सही समय पर दवाई ली जाए और सकरात्मक सोच हो तो कोरोना को मात दी जा सकती है। उन्होंने बताया कि होम आईसोलेशन में रहने पर डाॅक्टर प्रतिदिन उन्हें दो बार फोन कर स्वास्थ्य की जानकारी लेते थे और जरूरी सलाह भी देते थे। उन्होंने बताया कि 19 अप्रैल की उनकी रिपोर्ट पाॅजीटिव आने के बाद उन्हें भी डर लगा था। लेकिन डाॅक्टरों ने लगातार उनका मनोबल बढ़ाया। उनके परिवार में उनकी 37 वर्षीय बहू श्रीमती पुष्पा कश्यप की कोरोना की भी रिपोर्ट पाॅजीटिव आयी थी। इस दौरान सभी ने दवाई के साथ-साथ घरेलू उपचार एवं प्राणायाम को भी अपनी जीवनचर्या में अपनाया। होम आईसोलेशन में रहकर उन्होंने 17 दिनों में कोरोना पर विजय प्राप्त कर ली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here