बिलासपुर।कोटा माँ की ममता हुईं शर्मसार डेढ़ माह की दूध मुहे बच्ची को लावारिश हालात में छोड़ कर हुई फरार,
कोटा थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत गोबरीपाठ में जवाहिल नामक व्यक्ति के मकान के पास आज गुरुवार को एक डेढ़ माह की बच्ची को लावारिस हालत में छोड़कर अज्ञात महिला फरार हो गए। वही जब बच्ची की रोने की आवाज आस पास के ग्रामीण सुने तो पास में जाकर देखे जहाँ एक डेढ़ माह की बच्ची जमीन पर पड़े ईंट के ऊपर मिला, जब ग्रामीणों ने उस अज्ञात महिला की आसपास खोजबीन की लेकिन उसका कही पता नही चला तब इसकी आस पास ग्रामीणों ने सूचना ग्राम पंचायत सरपंच पति प्रकाश मरकाम व ग्राम कोटवार महेन्द्र गंधर्व को दी सूचना के बाद मौके पर पहुंच कर गांव के कोटवार ने सूचना कोटा पुलिस डायल 112 को दी गई मौके पर पहुंची112 टीम के आरक्षक शरद कुमार द्वारा मासूम बच्ची को कोटा सामुदायिक स्वस्थ्य केंद्र लेकर आए जहाँ डॉक्टरों द्वारा चेकअप किया डॉक्टरों की चेकप में बच्ची स्वस्थ्य मिली थी उसके बाद बच्ची को दूध पिलाकर उसकी सही देखभाल के लिए सिम्स बिलासपुर रिफर कर दिया गया।वही ग्राम पंचायत गोबरीपाठ निवासी सतरूपा मानिकपुरी द्वारा उस डेढ़ माह की मासूम बच्ची को गोदनामा लेने की इच्छा जाहिर भी की गई। महिला द्वारा मासूम को गोद मे लेकर दूध पिलाकर कपड़े पहनाई जिसके बाद बच्ची को अपने साथ लेकर डायल 112 वेंन में बैठकर अस्पताल पहुंचे जहां पर महतारी एक्सप्रेस 102 की मदत से मासूम बच्ची को बिलासपुर सिम्स भेजी गई।वहीं ग्रामीणों की माने तो एक महिला और डेढ़ माह की बच्ची के साथ 10 से 11बजे के बीच सुबह एक महिला बजरंग चौक गोबरीपाठ के बैठी थी और उसके बाद महिला ने वहां से उठकर जवाहिल नामक व्यक्ति के घर के पास छोड़कर चली गई। फील हाल कोटा पुलिस अज्ञात महिला की पता तलाश में जुटी हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here